इज़ आफ लिविंग सर्वे में स्थान पाने शहरवासियों की सहभागिता ज़रूरी-कमिश्नर, शहर के फीडबैक के लिए यूएलबी कोड 801975, नागरिकों का फीडबैक महत्वपूर्ण

# 30 Nov, 2022

इज़ आफ लिविंग सर्वे में स्थान पाने शहरवासियों की सहभागिता ज़रूरी-कमिश्नर

नागरिक देंगे फीडबैक,पत्रकार वार्ता में एमडी कुणाल दुदावत ने दी जानकारी

बिलासपुर शहर के फीडबैक के लिए यूएलबी कोड 801975 है

सर्वे में नागरिकों का फीडबैक महत्वपूर्ण

बिलासपुर- शहरों में नागरिकों को मिलने वाली सुविधाओं के आकलन एवं भविष्य के लिए कार्य योजना तैयार करने के उद्देश्य से केंद्रीय आवासन एवं शहरी विकास मंत्रालय भारत सरकार द्वारा देश भर में इज़ आफ लिविंग इंडेक्स सर्वे कराया जा रहा है.जो 23 दिसंबर तक चलेगा,इस सर्वे में नागरिक अपना फीडबैक भी दे सकते हैं। इस बात की जानकारी स्थानीय प्रेस-क्लब में आयोजित पत्रकार वार्ता में बिलासपुर स्मार्ट सिटी के एमडी श्री कुणाल दुदावत ने दी। प्रेस-क्लब में आयोजित पत्रकार वार्ता को संबोधित करते हुए एमडी श्री दुदावत ने बताया की इस सर्वे में देशभर के 264 शहर शामिल होंगे। इस बार सर्वेक्षण के तहत हर इज आफ लिविंग इंडेक्स के निर्धारण के लिए अपने शहर में उपलब्ध सुविधाओं व सेवाओं के संबंध में नागरिक अपना फीडबैक देंगे। इस सर्वे के उद्देश्य पर प्रकाश डालते हुए एमडी श्री कुणाल दुदावत ने बताया की इज आफ लिविंग सर्वे का उद्देश्य शहरों में आमजन के लिए उपलब्ध सुविधाओं के बारे जानकारी लेना तथा इस सर्वे के बाद जारी परिणाम और उससे प्राप्त डाटा के विश्लेषण के आधार पर भविष्य के लिए कार्य योजना तैयार करना है। ताकि आमजन का जीवन स्तर उठा सकें और मूलभूत सुविधाओं का विस्तार किया जा सके। गुणवत्तापूर्ण जीवन,आर्थिक क्षमता और शहर की व्यवस्थाओं की स्थिरता.इन बिंदुओं पर जीवन उपयोगी बुनियादी सुविधाओं के स्तर का निर्धारण कर रैंकिंग की घोषणा भारत सरकार करेगी। जिसमें गुणवत्तापूर्ण जीवन,आर्थिक क्षमता, व्यवस्थाओं की स्थिरता तथा नागरिकों के फीडबैक पर नंबर निर्धारित है।सर्वेक्षण में इन बिंदुओं के अंतर्गत गवर्नेंस, शिक्षा, स्वास्थ्य,स्वच्छता, सुरक्षा, आर्थिक स्थिति व रोजगार, आवासों की उपलब्धता, अबाधित विद्युत आपूर्ति, शहरी परिवहन, प्रदूषण में कमी,सड़क,हरियाली,जैसे तत्व शामिल है। ज्ञात है की इज अफ लिविंग इंडेक्स के गत वर्ष के सर्वेक्षण में बिलासपुर शहर को देश में 7 वां स्थान प्राप्त हुआ था।

23 दिसंबर तक दें सकेंगे अपना फीडबैक

शहर के नागरिक इसके लिए अपना फीडबैक 23 दिसंबर तक दें सकेंगे, फीडबैक देने के लिए शहर में बैनर,पोस्टर लगाए जाएंगे जिसमें अंकित लिंक और क्यू आर कोड से स्कैन करके दिए गए सवालों का जवाब देना है और दूसरा तरीका यह है की केंद्र शासन द्वारा जारी लिंक https://eol2022.org/CitizenFeedback में जाकर अपना फीडबैक दे सकते हैं। बिलासपुर शहर के लिए फीडबैक देने के लिए यूएलबी कोड 801975 है जिसे डालने के बाद सर्वे में पूछे गए सवालों का जवाब देना होगा,जवाब देने के बाद फीडबैक सबमिट कर देने से प्रक्रिया पूर्ण हो जाएगी। नागरिकों के सहभागिता की ज़रूरी-कमिश्नर शहर के नागरिकों से इज़ आफ लिविंग इंडेक्स सर्वे में फीडबैक देने की अपील करते हुए कमिश्नर एवं एमडी श्री दुदावत ने कहा की यह सर्वे नागरिकों के सहभागिता के बगैर संभव नहीं है.इसलिए बिलासपुर के नागरिक इस सर्वे में अपनी अधिक से अधिक संख्या में सहभागिता अर्पित करते हुए "हमर बिलासपुर" को नंबर वन बनाएं। बैनर-पोस्टर से लेकर सोशल मीडिया में भी दी जाएगी जानकारी आमजन को इस सर्वे के प्रति जानकारी देने शहर भर में होर्डिंग लगाए जाएंगे और पोस्टर वितरित किया जाएगा। इसके अलावा शहर के अलग-अलग स्थानों में जाकर नागरिकों के मध्य जागरूकता कार्यक्रम के ज़रिए आमजन को जागरूक किया जाएगा। सोशल मीडिया में बिलासपुर स्मार्ट सिटी और नगर निगम बिलासपुर के पेज़ के ज़रिए भी सोशल मीडिया में इस सर्वें की जानकारी दी जाएगी, जिसमें क्यू आर कोड और लिंक पोस्ट किया जाएगा।

Banner